मजदूर और हालात…

मजबूरी में जो निकला घर से कुछ मजदूरी करने,वही रह गया तकता देखो, इन हालातों में मरने। रोज़ी-रोटी ने उसे कितना दूर करवाया हैबचपन के यारों ने आज उसे घर…

Continue Reading मजदूर और हालात…

लॉक-डाउन

भारत में कोरोना के प्रकोप को तेजी से बढ़ते हए देख मन बड़ा विचलित होकर एक अनजाने से भय की तरफ दस्तक देता दिखाई पड़ रहा है इसी बीच कई…

Continue Reading लॉक-डाउन

भौतिकवाद- सत्य या भ्रम

'भौतिकवाद' ये शब्द कहने को तो अपने आप में ही बड़ा सार्थक है, जिसकी परिभाषा तो कहती है कि पँच-भूतों से मिलकर बने इस संसार को ही सत्य और वास्तविक…

Continue Reading भौतिकवाद- सत्य या भ्रम